आखीर हम सफल क्यो नही हो पाते – आज जाने कुछ नया- Hindi motivation

Hindi motivation

Hindi motivation

अगर आज आप किसी से यह पूछे कि क्या आप सफल होना चाहते है तो आपको क्या लगता है कि क्या जवाब मीलेगा , हा या ना जाहिर सी बात है हा भला कौन होगा जो सफल नहीं होना चाहेगा , चाहे आप हो या मै हम सभी सफल होना चाहते है लेकिन सभी को सफलता नही मिल पाती आखिर क्यो ?

अब इसका ही जवाब आपको इस Post में मीलेगा तो आपको बता दू कि इसमे कई Categari के लोग आते है एक तो वो जो केवल सफल होना चाहते है , और एक वो जो सफल होना चाहते व उसके लिये प्रयास भी करते है लेकिन कुछ समय बाद प्रयास करना बंद कर देते है और एक वो होते है जो सफल होना चाहते है और प्रयास भी करते है और ये कितना भी समय बीत जाये ये बूढ़े भी होते जाये लेकिन प्रयास करना नहीं छोड़ते !

 

अब Point की बात यह है कि इन्हे भी सफलता नही मिलती और अगर मिलती भी है तो वक्त निकल चूका होता है और वो भी उन्हे उस जैसा result नही मिलता जैसा कि वे चाहते थे और अब चलिए last person की बात करते है जो सही समय पर सही result पाकर सफल होते है !

तो हमने आप को चार तरह के लोगो के बारे में बताया जो कि चार अलग – अलग Category मे आते है और इनमे से real Success एक ही category के person को मिल पाती है तो मै उन्हें नीचे आपको so करता हूँ फिर आप को पता चलेगा की आप कहा पर है और आप को क्यो success नही मिल रही !

 

A1  – जो केवल सफलता चाहते है कोइ ACTION नही लेते

A2 – जो सफल होने के लिये प्रयास भी करते है लेकिन कुछ समय बाद हार मान जाते है

A3 – जो केवल प्रयास पे प्रयास करते है और उम्र गवाते है

A4 – जो प्रयास करते है और उचित समय पर सफल हो जाते है

 

अब मै इन चारो category को एक्सप्लेन करूगाँ जिससे आपको इस success के फंडे को समझने मे मदद मिलेगी !

Hindi motivation

Category – A1

इस category के person के बारे में मैन बताया की ये सफल होना चाहते है जैसे अब जब आप इनसे कहोगे की तुम सफल क्यो नही हो पा रहे तो ये बड़े ही अच्छे अच्छे बहाने गीना देंगे की मेरे साथ ये हो गया नहीं मै ये कर लेता मुझे यह नही मिला नहीं मै वो बन जाता !

और जैसे ये business करना चाहते है तो कहेंगे की मेरे पास पैसे नहीं है नहीं तो मई ये business कर लेता मुझे अच्छा माहौल नहीं मिला नही मई ये बन जाता मतलब ये करते कुछ नहीं है लेकिन जब कुछ नहीं होता तो अपने आस पास की चीजो को दोष देते है ! दरअसल होता क्या है कि जब हम दुसरो को दोष देते रहते है तो हमारे माइंड को यह signal जाता है की हम पूरी तरह सही है और हम कुछ नहीं कर सकते और इस तरह आपका दिमाग भी नये idea व विचार खोजना बंद कर देता है !

अगर आप भी एसा करते है तो दुसरो के बजाये खुद को दोष देना शुरु करिये और देखिये आपके mind को signal जायेगा और तुरन्त अपने आपको सही साबित करने के लिए कोइ न कोइ idea ढूंड कर आपको देगा और आपके लिए कोइ न कोइ रास्ता निकल हि आएगा !

Hindi motivation

category – A2

इस category के लोग की बात करे की जैसे ये कोइ काम शुरु किये और उसमे कोइ बाधा आ गयी सही बात है एसा होता है और ये कभी – कभी सही भी होते है की अगर ये कोशिश करना नही छोड़ते तो और टाइम वेस्ट होता लेकिन कहा गया है कि जिन्दगी में किसी चीज को पाने के लिये तरीके बदलो इरादे नही  तो आप यदि देखते है कि इसमे कुछ नहीं होने वाला तो उसक्के करने के तरीके बदलिए न कि इरादे !

जैसे कि आपने Edison की ये बात तो सुनी होगी कि उन्होंने बल्ब बनाने के पिछे हजारो प्रयोग किये थे तो उन्होंने हर बार तरीके बदले थे कि बल्ब अगर इससे नहीं जल रहा तो उससे जलेगा !

ये नहीं कि उन्होने इरादा ही बदल दिया किया नहीं अब मै बल्ब नहीं अब मै हीटर बनाऊंगा तो आप इस पर विचार करे कि यह चीज ऐसे नही होगी तो दूसरा method लगायेंगे लेकिन हार नही मानेंगे !

Hindi motivation

Category – A3

ये वो लोग होते है जो बस हाथ मे Gun लिये गोलिया चालाये जा रहे है और ये जरा भी नही सोच रहे है कि हमें निशाना कहा साधना है और ये अपना Time भी वेस्ट कर रहे है और गोलिया भी ख़त्म होने लगती है !

चलिये मै इसे एक और example से समझाने कि कोशिश करता मान लीजिये आप किसी कमरे मे खड़े है और आपसे किसी ने कह दिया कि बगल वाले कमरे में जाओ तो आप क्या करेंगे क्या आप जहा खड़े होंगे वही से उस कमरे मे दीवार तोड़ कर घुस जायेंगे नहीं ना आप देखेंगे कि उसका Door किधर है और आप तुरन्त उस दरवाजे से दुसरे कमरे में चले जायेंगे !

लेकिन सफलता के मामले में इस category के लोगो का हाल यह होता है कि ये वही से दीवार हो या कुछ उसी से उस कमरे में जाने का प्रयास करने लगेंगे और खूब टाइम और energy वेस्ट करेंगे और ये सोचेंगे कि हमे प्रयास नहीं छोड़ना चाहिये लगे रहो यही से हम उस कमरे मे जायेंगे !

तो क्या सही है नही हम उसे कहेंगे रुको और जरा सोचो कि तुम्हे अगर उस कमरे मे जाना है तो उस दिवार को मत ढकेलो थोड़े से Side होकर उस दरवाजे से चले जाओ ! तो देखा आपने यह तो सिंपल सा example हमे समझ में आता है लेकिन सफलता के मामले मे हम एसा हि करते है और थोडा रुक कर यह नहीं सोचते कि क्या हम सही जा रहे सही दिशा में जा रहे है जहा हमें जाना है

तो इस बारे में विचार करे और सिर्फ कोशिश में Believe ना करे बल्कि सही दिशा मे कोशिश करने में विश्वास करे !

Hindi motivation

Category – A4

अब ऊपर तीन आपने समझ लिए तो मुझे ये चौथा समझाने कि जरुरत ही नहीं है क्योकि ये चौथा ऊपर के ही तीनो का  सार है इस category के लोग ही बड़ी और अच्छी सफलता पाते है क्योकि ये सफल होना चाहते है , प्रयास करते है वो भी सही direction में और सफ़ल हो जाते है !

तो आप भी अपने ऊपर विचार करे और अपने आपको इस चौथी A 4 category में लाये फिर देखिये आपको सफल होने से रोकना तो दूर कोइ छू भी नही सकता !

Internet Enterpreneur की  सफलता कि कहानी 

तो यह हमारा आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें Comment करके जरुर बताये और अपने दोस्तो के साथ social site पर share करे !

पढ़े Best Hindi Motivatioal Blog

Leave a Reply